Wednesday, July 24, 2024
spot_img
HomeCrimeमध्य प्रदेश की चर्चित क्राइम स्टोरी : इंदौर में बिल्डिंग से कूदकर...

मध्य प्रदेश की चर्चित क्राइम स्टोरी : इंदौर में बिल्डिंग से कूदकर चार खुदकुशी, चारों लड़कियां, कारण अब भी नहीं हुआ साफ

इंदौर शहर में जून महीने में ही बिल्डिंग से कूदकर खुदकुशी करने की तीन घटनाएं सामने आई हैं। इनमें एक छात्रा और दो नौकरीपेशा शामिल हैं। इन घटनाओं ने शहर में इमारतों की सुरक्षा व्यवस्था पर बड़े सवाल उठने लगे हैं। इधर पुलिस इन सभी मामलों की जांच कर रही है, लेकिन अब तक कोई पुख्ता बात पता नहीं चली, जो खुदकुशी की वजह मानी जाए।

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर की ऊंची-ऊंची इमारतें सुसाइड पाइंट बनते जा रही हैं। शहर जून महीने में ही ऊंची इमारतों से कूदकर जान देने के तीन मामले सामने आए हैं। इसके पहले अप्रैल में भी ऐसी घटना हुई थी।

इन घटनाओं ने शहर की इमारतों में सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं। सभी मामलों में एक बात समान है, वो यह कि खुदकुशी करने वालों में नौकरीपेशा महिलाएं और छात्राएं थीं। यहां पढ़‍िए खुदकुशी की चार घटनाएं, जो अब भी मध्य प्रदेश में चर्चा में हैं…

शहर के कनाड़‍िया इलाके की एक बिल्डिंग की छत से कूदकर 27 वर्षीय बुलबुल चंदेल ने खुदकुशी कर ली थी। वो इसी बिल्डिंग में एक रियल एस्टेट कंपनी में काम करती थी। फोन पर बात करते हुए वो छत तक गई और अचानक उसने छलांग लगा दी।

बुलबुल ने खुदकुशी क्यों कि यह अब भी सवाल है। पुलिस उसके फोन रिकार्ड की जांच कर रही है। परिजनों के अनुसार दो साल पहले ही बुलबुल का तलाक हुआ था। उनका यह भी आरोप है कि हो सकता है कि उसे कोई ब्लैकमेल कर रहा हो।

शहर के कनाड़‍िया इलाके की एक बिल्डिंग की छत से कूदकर 27 वर्षीय बुलबुल चंदेल ने खुदकुशी कर ली थी। वो इसी बिल्डिंग में एक रियल एस्टेट कंपनी में काम करती थी। फोन पर बात करते हुए वो छत तक गई और अचानक उसने छलांग लगा दी।

बुलबुल ने खुदकुशी क्यों कि यह अब भी सवाल है। पुलिस उसके फोन रिकार्ड की जांच कर रही है। परिजनों के अनुसार दो साल पहले ही बुलबुल का तलाक हुआ था। उनका यह भी आरोप है कि हो सकता है कि उसे कोई ब्लैकमेल कर रहा हो।

इंदौर में 24 जून को बीसीएम हाइट्स बिल्डिंग की आठवीं मंजिल से कूदकर 37 वर्षीय सुरभि जैन ने खुदकुशी कर ली थी। वह टीसीएस कंपनी में प्रोजेक्ट मैनेजर थी। खुदकुशी से पहले उसने पिता को मोबाइल पर मैसेज भेजकर “आय एम सॉरी” लिखा था। सुरभि का तलाक हो चुका था और वह पिता के साथ ही रहती थी। उसे ड्रिपेशन की समस्या भी थी, जिसका इलाज चल रहा था।

स्कूल के पहले दिन ही सातवीं की छात्रा 13 वर्षीय अंजलि यामयार ने अपोलो डीबी सिटी की 14वीं मंजिल से कूदकर खुदकुशी कर ली थी। वह अपने पिता के साथ ही बस स्टॉप पर आई फिर उन्हें घर जाने का बोला। पिता के जाते ही वो टाउनशिप की दूसरी बिल्डिंग में गई और लिफ्ट से 14वीं मंजिल पर पहुंची। यहां स्कूल बैग रखने के बाद उसने छलांग लगा दी।

पुलिस को जांच में उसका एक टेबलेट मिला है, साइबर एक्सपर्ट से उसका लॉक खुलवाने की कोशिश की जा रही है। भाई ने पूछताछ में बताया था कि वो घर में विवाद की वजह से वो डिप्रेस थी। दूसरी बार बयान लेने पर कहा कि उसे गेम की लत लग गई थी। यह भी सामने आया कि अंजलि अपनी फ्रेंड्स को बालकनी और ऊंचाई से ली तस्वीरें भेजती थी। इस मामले में अभी तक खुदकुशी का कारण नहीं पता चला है।

शहर के निपानिया स्थित पिनेकल ड्रीम्स के निर्माणाधीन इमारत की 17वीं मंजिल से कूदकर 24 वर्षीय छात्रा मुस्कान अग्रवाल ने खुदकुशी कर ली थी। वह बड़वानी जिले के रहने वाली थी और इंदौर में बीबीए फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रही थी।

जांच में यह भी सामने आया था कि वो सोमेटाइजेशन नाम बीमारी से पीड़‍ित थी। हॉस्टल से बीमारी के इलाज की स्लिप भी पुलिस ने बरामद की थी। इसके बाद मोबाइल, दोस्त, स्वजन से जांच, लेकिन खुदकुशी करने का कोई पुख्ता कारण सामने नहीं आया।

SourceNaidunia
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments