Wednesday, July 24, 2024
spot_img
HomeUncategorizedHDFC Bank के ग्राहकों के लिए जरूरी खबर, कार और होम लोन...

HDFC Bank के ग्राहकों के लिए जरूरी खबर, कार और होम लोन की EMI पर पड़ेगा असर

भारत के सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक एचडीएफसी ने कुछ चुनिंदा अवधि के लोन पर एमसीएलआर में संशोधन किया है। एमसीएलआर में रिवाइज करने से लोन की ईएमआई प्रभावित होगी।

प्राइवेट सेक्टर एचडीएफसी बैंक के ग्राहकों के लिए को बड़ा झटका लगा है। एचडीएफसी बैंक ने लोन पर मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंट्स बेस्ड लेंडिग रेट (MCLR) को रिवाइज किया है।

HDFC बैंक के एमसीएलआर में संशोधन से होम लोन, पर्सनल लोन और ऑटो लोन सहित सभी फ्लोटिंग-रेट लोन की ईएमआई प्रभावित होगी, क्योंकि इससे लोन का ब्याज बढ़ जाता है। ऐसे में ग्राहकों को अधिक EMI का भुगतान करना पड़ेगा। ये नई दरें 8 जुलाई 2024 से लागू हो गई हैं। एचडीएफसी बैंक की एमसीएलआर 9.05% से 9.40% के बीच है। बैंक ने इसमें 0.10% की बढ़ोतरी की है।

HDFC Bank की ओवरनाइट एमसीएलआर 8.95% से बढ़कर 9.05% हो गई है।एक महीने की MCLR 9% से बढ़कर 9.10% हो गई है।तीन महीने की एमसीएलआर 9.15% से बढ़कर 9.20% हो गई है।

छह महीने की एमसीएलआर 9.30% से बढ़कर 9.35% हो गई है।एक साल की एमसीएलआर 9.30% से बढ़कर 9.40% हो गई है।दो साल की एमसीएलआर बढ़कर 9.40% हो गई है।तीन साल की एमसीएलआर 9.40% हो गई है।

एमसीएलआर कैसे तय किया जाता है?

एमसीएलआर का रेट विभिन्न कारकों के आधार पर तय किया जाता है, जिसमें डिपॉजिट रेट, रेपो रेट, ऑपरेशनल कॉस्ट और कैश रिजर्व रेशो शामिल हैं। रेपो रेट में बदलाव एमसीएलआर दर को प्रभावित करता है, जिससे ईएमआई बढ़ जाती है।

लोन की ईएमआई बढ़ेगी

एमसीएलआर में वृद्धि या कमी से होम लोन, ऑटो लोन और पर्सनल लोन समेत सभी तरह के लोन की ब्याज दर पर असर पड़ता है। एमसीएलआर बढ़ने पर लोन ग्राहकों को पहले से ज्यादा ईएमआई देनी पड़ती है। नया लोन लेने वाले कस्टमर्स को महंगा लोन मिलेगा।

SourceNaidunia
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments